हरेला पर प्राथमिक स्कूल बजेला के बच्चों की चित्रकारी, निबंध लेखन और रेडियो शो

0
38
  • अल्मोड़ा स्थित प्राथमिक स्कूल बजेला के आसपास ग्रामीणों ने रोपे पौधे
  • संस्कृति के संरक्षण तथा बाल रचनात्मकता को बढ़ावा देने के उद्देश्य से स्कूल हर साल मनाता हरेला महोत्सव  
राजकीय प्राथमिक विद्यालय बजेला ने कोविड-19 को देखते हुए हरेला महोत्सव कुछ अलग अंदाज में मनाया। कोविड-19 की गाइडलाइन और विभागीय निर्देशों का पालन करते हुए गुरुवार को हरेला महोत्सव विद्यालय से अलग ग्रामीणों के साथ मिलकर आयोजित किया गया। उत्तराखंड की संस्कृति के संरक्षण तथा बाल रचनात्मकता को बढ़ावा देने के उद्देश्य से स्कूल हर साल हरेला महोत्सव मनाता है।

विद्यालय के शिक्षक भाष्कर जोशी ने बताया कि बच्चों ने हरेला पर चित्रकारी और निबंध लेखन किया। इस दौरान दीवार पत्रिका का निर्माण किया गया। मुक्तेश्वर स्थित सामुदायिक रेडियो स्टेशन कुमाऊंवाणी के साथ रेडियो शो का आयोजन किया गया।

बाल रचनात्मकता को बढ़ावा देने और पर्वतीय बोली को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से सुमित खनी और खुशी खनी ने रेडियो शो प्रस्तुत किया जिसमें सुमित ने हरेला पर्व के बारे कुमाऊंनी बोली में जानकारी दी।
विद्यालय के आसपास सामाजिक दूरी का पालन करते हुए और कोविड-19 गाइडलाइन के अनुसार अभिभावकों के साथ विभिन्न प्रकार के 22 पौधे रोपे गए। इस अवसर पर दीपा देवी, माया देवी, कमला देवी ,निर्मला देवी, आनंदी देवी, बिशन सिंह, पान सिंह, दरवान सिंह, गणेश सिंह आदि उपस्थित रहे। पौधारोपण को छोड़कर सभी कार्यक्रम विद्यालय से अलग ग्रामीणों के साथ संपन्न किए गए।

LEAVE A REPLY