ग्रेफेन का टैटू करेगा हेल्थ की मानिटरिंग

0
744
Image@ phys.org

टेक्सास विश्वविद्यालय में स्वास्थ्य की निगरानी के लिए ग्रेफेन आधारित टैटू विकसित किया गया है, जो पहनने योग्य इलेक्ट्रॉनिक उपकरण की तरह है। इस अस्थायी टैटू को पानी से साफ किया जा सकता है। यह कलात्मक या रंगीन डिजाइन का दिखने के बजाय लगभग पारदर्शी है। यह टैटू एक तरह का सेंसर है, जो हृदय, मस्तिष्क की गतिविधियों को मानिटर करेगा।  

इसका मुख्य आकर्षण ग्रेफेन के अनूठा इलेक्ट्रॉनिक गुण है, जिसका बॉयोमीट्रिक उपयोग किया जा सकता है। इसकी मदद से हृदय, मस्तिष्क और मांसपेशियों की विद्युत गतिविधियों को मापा जा सकेगा। साथ ही मानव और मशीन के बीच परस्पर क्रियाओं के लिए इसके इस्तेमाल की संभावनाएं हैं। यह टैटू जैसा एक पहनने योग्य उपकरण होगा। 

वहीं इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों में अक्सर गोल्ड का इस्तेमाल किया जाता है, लेकिन ग्रेफेन इससे अधिक प्रवाहकीय है। यह गोल्ड से कहीं ज्यादा पतला है और यह त्वचा के साथ स्वाभाविक रूप से जुड़ जाएगा। त्वचा पर पड़ने वाली सिकुड़न के अनुसार ढल जाएगा। आशा है कि जैसे ही ग्रेफेन का दाम गिरेगा, ऐसे टैटू चिकित्सा उपयोग के लिए सस्ते हो जाएंगे। 

LEAVE A REPLY