असम में बीमार बच्चे को मिलीं वीआईपी सेवाएं

0
226

गुवाहाटी के एक नर्सिंग होम की आईसीयू में भर्ती चार महीने के बच्चे को एयरपोर्ट तक पहुंचाने के लिए ग्रीन कॉरिडोर उपलब्ध कराया गया। अस्पताल से गुवाहाटी एयरपोर्ट तक लगभग 30 किमी. का सफर बिना किसी बाधा के पूरी सुरक्षा के साथ तय कराया गया। असम के मुख्यमंत्री कार्यालय ने गुवाहाटी के रेजीडेंट कमिश्नर को निर्देश दिए थे कि बच्चे को एयरपोर्ट तक ग्रीन कॉरिडोर की सुविधा प्रदान की जाए। 

निमोनिया से गंभीर रूप से पीड़ित चार माह के बच्चे को दिल्ली के सर गंगाराम अस्पताल ले जाने के लिए एयर एंबुलेंस की सेवाएं ली गईं। नर्सिंग होम के आईसीयू में बच्चा वेंटीलेशन पर था। रविवार को इस बच्चे को नर्सिंग होम से लोकप्रिया गोपीनाथ बोर्डोली इंटरनेशनल एयरपोर्ट तक लाना था। जिसके लिए उसको अस्पताल से एयरपोर्ट तक 30 किमी. का सफर तय करना था। उसको बिना किसी बाधा के जल्द से जल्द एयर एंबुलेंस तक पहुंचना था।

एक अंग्रेजी न्यूज वेबसाइट में प्रकाशित खबर के अनुसार अस्पताल के अधिकारियों और बच्चे के माता-पिता के अनुरोध पर कामरूप मेट्रोपॉलिटन जिला प्रशासन और राज्य पुलिस ने बच्चे की एंबुलेंस को एयरपोर्ट तक ग्रीन कॉरिडोर की सेवाएं प्रदान की। वहीं असम सरकार ने इस बच्चे के आगे के इलाज का खर्चा स्वयं उठाने की बात कही।

मुख्यमंत्री के कार्यालय ने असम के रेजीडेंट कमिश्नर को निर्देश दिए थे कि राजधानी में ‘ग्रीन कॉरिडोर’ की सुविधा उपलब्ध कराएं, ताकि बच्चे को बिना किसी बाधा के एयर एंबुलेंस तक पहुंचाया जाए। कुछ माह पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी असम के डिब्रूगढ़ से एक बीमार बच्चे को ‘ग्रीन कॉरिडोर’ की सुविधा प्रदान करने के निर्देश दिए थे।

LEAVE A REPLY