महिला समूहों को पांच लाख तक का ऋण मात्र एक प्रतिशत ब्याज पर

0
999

रुद्रप्रयाग। महिला समूहों को पांच लाख रूपये तक का ऋण मात्र एक प्रतिशत ब्याज पर दिया जाएगा। अटल आयुष्मान उत्तराखण्ड योजना के तहत अभी तक 5 लाख 40 हजार 670 गोल्डन कार्ड बन चुके हैं। मुख्यमंत्री ने रुद्रप्रयाग में 78 करोड़ 68 लाख रुपये की योजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास किया।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने शुक्रवार को रुद्रप्रयाग में भी अटल आयुष्मान उत्तराखंड योजना का शुभारम्भ किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि जब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आयुष्मान भारत योजना का शुभारम्भ किया तो देश का पहला गोल्डन कार्ड रुद्रप्रयाग जिले की तारा देवी को मिला। प्रधानमंत्री ने दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य योजना देश को दी है।इस योजना से देश के 10 करोड़ गरीब परिवारों लगभग 50 करोड़ लोगों को सीधा फायदा मिलेगा। उत्तराखण्ड देश में अटल आयुष्मान उत्तराखण्ड योजना से प्रदेश के सभी 23 लाख परिवारों को आच्छादित करने वाला पहला राज्य बना है।

इस योजना के लिए 99 सरकारी व 66 प्राइवेट चिकित्सा संस्थान चयनित हैं। 1350 गम्भीर बीमारियों का इसमें इलाज हो सकेगा। सरकारी अस्पतालों को प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। उम्मीद है कि आने वाले वर्षों में दूरस्थ क्षेत्रों में चिकित्सा सुविधा देने के लिए निजी अस्पताल भी आगे आएंगे। योजना के तहत जल्द ही बच्चों व बुजुर्गों के लिए निशुल्क ओपीडी की भी सुविधा दी जाएगी।

उन्होंने कहा कि 26 जनवरी से राज्य में पूरी तरह से समर्पित एयरएम्बुलेंस शुरू की जाएगी। अभी भी हम आवश्यकता होने पर गम्भीर रोगियों के लिए हेलीकाप्टर उपलब्ध करवाते हैं। परंतु एयर एम्बुलेंस पूरी तरह से इसी काम के लिए समर्पित होगी। मरीजों के सहयोग के लिए एम्स ऋषिकेश में जल्द ही दो आरोग्य मित्र नियुक्त किये जाएंगे। एक साल के अन्दर सभी जिलों में आईसीयू की सुविधा उपलब्ध हो जाएगी। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने लाभार्थियों को अटल आयुष्मान उत्तराखण्ड योजना के गोल्डन कार्ड भी वितरित किए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि महिला समूहों को मात्र 5 लाख रुपये तक का ऋण मात्र एक प्रतिशत ब्याज पर दिया जाएगा। प्रदेश में किसानों को कृषि कार्यों के लिए शून्य प्रतिशत ब्याज पर एक लाख रुपये दिए जाएंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि स्थानीय स्तर पर लोगों को स्वरोजगार से जोड़ने के लिए सभी 670 न्याय पंचायतों को ग्रोथ सेंटर के रूप में विकसित किया जा रहा है। पिरूल नीति से सीधे स्थानीय लोगों को रोजगार से जोड़ा जा रहा है। इस नीति के अन्तर्गत 150 मेगावाट बिजली उत्पादन व 50 हजार लोगों को स्थानीय स्तर रोजगार देने का लक्ष्य रखा गया है।

उन्होंने कहा कि 20 माह में हमने भ्रष्टाचार पर कड़ा प्रहार किया है। समाज कल्याण की योजनाओं, खाद्यान्न, मेडिकल, एनएच74 घोटालों की जांच कराकर हजारों करोड़ रुपए बचाने का कार्य किया है। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार मुक्त उत्तराखंड बनाने के लिए सबका सहयोग जरूरी है।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने इस अवसर पर कुल 78 करोड़ 68 लाख रुपये की 23 योजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास किया। जिसमें 55 करोड़ 83 लाख के शिलान्यास व 22 करोड़ 45 लाख के लोकार्पण कार्य शामिल हैं। उन्होंने कहा कि रुद्रप्रयाग में अतिथि गृह का निर्माण किया जाएगा। दिग्धार बड़मा में सैनिक स्कूल का निर्माण कार्य जल्द पूरा किया जाएगा। कार्तिक स्वामी मंदिर में विद्युतीकरण किया जाएगा। केदारनाथ जाने के लिए रोपवे के निर्माण के लिए योजना बनाई जा रही है, जल्द ही रोपवे निर्माण से सम्बन्धि कार्ययोजना बनाई जाएगी।

उन्होंने उज्ज्वला योजना द्वितीय के तहत 2.5 लाख से कम आय वाले परिवारों को निःशुल्क गैस कनेक्शन वितरित करने की बात कही। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में कुल 155 पुलों के निर्माण के लिए स्वीकृति दी जा चुकी है। 200 पुलों का निर्माण और किया जाएगा। 2022 तक इन 355 पुलों का निर्माण कार्य पूर्ण कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि उत्तरकाशी में स्किल डेवलपमेंट का काॅलेज खोला जाएगा। इसको अगले वर्ष से प्रारम्भ किए जाने का प्रयास किया जाएगा। जल्द की गढ़वाल व कुमाऊं में एक-एक स्कूल खोले जाएंगे, जिनमें ऐसे मेधावी छात्र जो आर्थिक रूप से कमजोर हैं, को बहुत कम शुल्क व अनाथ बच्चों को निःशुल्क शिक्षा सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। गढ़वाल में जयहरीखाल में यह स्कूल खोला जाएगा। नौजवानों को रोजगार से जोड़ने के लिए 50 प्रतिशत सब्सिडी पर 200 बसें दी जाएंगी। इन बसों का अनुबंध रोडवेज की बसों से किया जायेगा।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने एनएलआरएम योजना सामुदायिक निवेश निधि एवं स्टार्टअप एवं स्टार्टअप फंड के अंतर्गत 05 ग्राम संगठनों,  केदारनाथ प्रसाद सहकारी संघ से जुडे 13 स्वयं सहायता समूहों, पीएमजीएसवाई सिंचाई खंड रुद्रप्रयाग के अन्तर्गत गुलाबरायतूना मोटर मार्ग व कोलूबैंड स्वारीग्वास मोटर मार्ग पर महिला मंगल दल द्वारा सामुदायिक काॅन्ट्रैक्टिंग के तहत अनुरक्षण कार्य के लिए चेक भी वितरित किए। मुख्यमंत्री ने ओएनजीसी के सीएसआर प्रोजेक्ट के तहत आजीविका परियोजना के तहत भीमसेन आजीविका स्वायत्त सहकारिता भीरी ब्लाॅक अगस्त्यमुनि में प्रोजेक्ट स्पर्श के तहत सैनेट्री नेपकिन यूनिट का उद्घाटन किया। इस अवसर पर कैबिनेट मंत्री प्रकाश पंत, विधायक भरत सिंह चौधरी, जिलाध्यक्ष विजय कप्रवाण, जिला प्रभारी भाजपा पंडित राजेन्द्र अंथवाल, मुख्यमंत्री के औद्योगिक सलाहकार केएस पंवार, जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल, एसपी अजय सिंह आदि उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY