सामान्य ज्ञानः भारत के राष्ट्रीय वन्यजीव पार्क

0
260

गिर राष्ट्रीय उद्यान एशियाई शेरों का एकमात्र स्थान है, जो गुजरात राज्य के जूनागढ़ जिले के लगभग 65 किलोमीटर दक्षिण पूर्व में स्थित है। 18 सितंबर,1965 को स्थापित अभ्यारण्य गुजरात के सौराष्ट्र क्षेत्र में 1412 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फैला है। 

सरिस्का टाइगर रिजर्व राष्ट्रीय उद्यान है, जो राजस्थान के अलवर जिले में  है और शेरों के लिए आरक्षित है।

केओलादेव नेशनल पार्क या केओलादेव घाना राष्ट्रीय उद्यान राजस्थान के भरतपुर जिले में है। 

दाराह राष्ट्रीय उद्यान की वर्ष 2004 में राजस्थान में स्थापना हुई थी, जिसमें तीन वन्यजीव अभ्यारण्य दाराह वन्यजीव अभ्यारण्य, चंबल वन्यजीव अभ्यारण्य और जवाहर सागर वन्यजीव अभ्यारण्य शामिल है। यह काठियावाड़-गिर सूखी पर्णपाती वन क्षेत्र में स्थित है। 

माउंट आबू वन्यजीव अभ्यारण्य राजस्थान की सबसे पुरानी पर्वत श्रृंखला की अरावली रेंज में स्थित है। वर्ष 1960 में इसे अभ्यारण्य घोषित किया गया था। 

रणथंभौर राष्ट्रीय उद्यान उत्तरी भारत में सबसे बड़ा और सबसे प्रसिद्ध राष्ट्रीय पार्क है। यह पार्क दक्षिणी राजस्थान के सवाई माधोपुर जिले में स्थित है, जो जयपुर से लगभग 130 किमी दूर है। 

हजारीबाग वन्यजीव अभ्यारण्य भारत के झारखंड में स्थित है। यह रांची से करीब 55 मील दूर है। यह 1955 में स्थापित किया गया था।

मुदुमलाई राष्ट्रीय उद्यान और वन्यजीव अभ्यारण्य तमिलनाडु के कोयम्बटूर शहर से लगभग 150 किलोमीटर उत्तर-पश्चिम में नीलगिरि जिले में नीलगिरी पहाड़ियों पर स्थित बाघ अभ्यारण्य है। 

जिम कॉर्बेट राष्ट्रीय उद्यान उत्तरी भारत के उत्तराखंड राज्य में वन्यजीव अभ्यारण्य है। वनस्पतियों और जीवों से समृद्ध यह राष्ट्रीय उद्यान बंगाल टाइगर के लिए जाना जाता है। बाघ, तेंदुओं और जंगली हाथियों सहित अन्य पशु ढिकाला क्षेत्र में घूमते हैं। 

पेरियार राष्ट्रीय उद्यान और वन्यजीव अभ्यारण्य (पीएनपी) केरल के इडुक्की, कोट्टायम और पथानामथिट्टा जिलों में तेक्कडी के पास संरक्षित क्षेत्र है। यह हाथी आरक्षित और बाघ अभयारण्य के लिए प्रसिद्ध है। 

राष्ट्रीय चंबल अभ्यारण्य, जिसे राष्ट्रीय चंबल घड़ियाल वन्यजीव अभ्यारण्य भी कहा जाता है।  उत्तर भारत में 5,400 वर्ग किमी में फैला यह अभ्यारण्य तीन राज्यों में चंबल नदी क्षेत्र में स्थित है।

LEAVE A REPLY