34.4 C
Dehra Dun
Wednesday, August 5, 2020
                                                                                                         

study

अखबार में कोई किसी का नहीं होता, मत करो किसी की परिक्रमा

अखबार में काम करने के शुरुआती वर्षों में, मैं हमेशा यही समझता था कि यहां...

अखबारों में खबरों का संपादन और रिपोर्टिंग

अखबारों की बात हो रही है तो संपादन और रिपोर्टिंग पर चर्चा करना भी जरूरी...

हथेली पर आम उगाने की मशीन नहीं है रिपोर्टर

आप रिपोर्टर हैं सुपरमैन नहीं। पर, संपादक से लेकर डेस्क तक के कुछ साथियों की...

अखबार के लिए महत्वपूर्ण होती है डेस्क और रिपोर्टर्स में खींचतान

अखबारों में डेस्क और रिपोर्टिंग वालों के बीच बहसबाजी होती रहती है। हालांकि अखबारों में...

पत्रकारिता तो अनुभवों से आती है…

एक युवा बहुत सारे सपने लेकर पत्रकारिता में आता है। उससे पूछो, तुम पत्रकारिता में...

क्या आपने कभी सोचा है कि आपकी कमीज में लगा प्लास्टिक का बटन कहां से आया…

प्लास्टिक में स्किल से लेकर रोजगार का सफर यहां से शुरू होता है उत्तराखंड...

दूधली से सुगंध वाली बासमती को क्या सुसवा ने गायब कर दिया

क्या अकेली सुसवा ही दोषी है दूधली घाटी में खेतों की बर्बादी के लिए...

कोरोना संक्रमणः एनबीटी करा रहे मनोवैज्ञानिक-सामाजिक प्रभावों पर ऑनलाइन सर्वे

नई दिल्ली। कोविड-19 और उसके बाद लॉकडाउन संबंधी मुद्दों के समाधान के लिए नेशनल बुक...

कोविड-19ः बंद वातावरण में वायरस, बैक्टीरिया को कंट्रोल कर देगी यह टेक्नोलॉजी

साइंटेक एअरऑन नाम का निगेटिव ऑयन जनरेटर बंद वातावरण में वायरस, बैक्टीरिया और फंगस संक्रमण...

कोरोना वायरसः कितना जानते हैं आप और कितना जानना बाकी है

डॉ टीवी वेंकटेश्वरन नोवेल कोरोना वायरस के बारे में कई तरह की बातें सोशल मीडिया, वाट्सऐप...

घर बैठकर पढ़ाई के लिए कुछ डिजीटल प्लेटफार्म

कोरोना वायरस के प्रभाव को देखते हुए शैक्षणिक संस्थान बंद चल रहे हैं। जब तक...

क्या घरेलू गौरैया वापसी कर रही है?

'विश्व गौरैया दिवस' पर फीचर (20 मार्च) जगप्रीत लूथरा घरेलू गौरैया, एक समय हमारे पर्यावरण का अभिन्न अंग हुआ...

जायफल है औषधीय गुणों की खान

डॉ. हरीश चन्द्र अन्डोला दून विश्वविद्यालय, देहरादून, उत्तराखंड जायफल सदाबहार वृक्ष है जो इण्डोनेशिया के मोलुकस...

अश्व गंधा की खेती के फायदे

डॉ० हरीश चन्द्र अन्डोला दून विश्वविद्यालय, देहरादून भारत में अश्वगंधा अथवा असगंध जिसका वानस्पतिक नाम वीथानीयां सोमनीफेरा...

बड़ा ही नहीं महत्वपूर्ण भी है बरगद वृक्ष

डॉ. हरीश चन्द्र अन्डोला दून विश्वविद्यालय,देहरादून बरगद के पेड़ का अपना एक सांस्कृतिक महत्व होता है। भारत का राष्ट्रीय...

उत्तराखंड के नौले: जल संस्कृति और जल विज्ञान की लुप्त होती राष्ट्रीय धरोहर

डॉ. हरीश चंद्र अन्डोला दून विश्वविद्यालय, देहरादून, उत्तराखंड यह तो सर्वविदित है कि जल की मनुष्य...

सिंगल यूज प्लास्टिक से मोटर ऑयल

शोधकर्ताओं ने एक ऐसी विधि विकसित की है, जिससे सिंगल यूज प्लास्टिक से उच्च गुणवत्ता...

चीटियां कर सकती हैं पौधों का इलाज

आरहस विश्वविद्यालय, डेनमार्क के नए शोध से पता चलता है कि चींटियां कम से कम...

ग्लोबल वार्मिंग: गेहूं उत्पादक बड़े हिस्से पर जल संकट

ग्लोबल वार्मिंग की वजह से जल संकट की चुनौती दिन पर दिन बढ़ रही है,...

महाराष्ट्र में मिले लौह कालीन बस्ती के प्रमाण

भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) ने महाराष्ट्र के फूपगांव में हाल ही में उत्खनन किया है।...

पेड़ हो सकते हैं हरित फोम का विकल्प

यदि आप गर्मी के दिन समुद्र तट पर जा रहे हैं, तो आप ठंडे पानी...

व्यंग्य भी बढ़ाता है आपकी क्रियेटिविटी को 

व्यंग्य के भी कुछ एेसे फायदे होते हैं, जिनकी कभी आपने अपेक्षा न की हो।...

सिलोगीः जितना शानदार अतीत, उतनी ही ज्यादा संभावनाएं

अब बात करते हैं सिलोगी के उस ऐतिहासिक विद्यालय की, जो 1926 में स्थापित हुआ...

आभूषण जड़े हथियार दर्शाते थे राजनीतिक और आर्थिक शक्ति

नई दिल्ली।  राष्ट्रीय संग्रहालय के सुरक्षित संग्रह से लिए सुसज्जित हथियारों और जिरह-बख्तरों की प्रदर्शनी...