18 C
Dehra Dun
Wednesday, October 16, 2019
Tags Newslive

Tag: newslive

कहानीः आसमान में घर बना दो

अफ्रीका के किसी गांव में एक व्यक्ति रहता था। वह बहुत होशियार था। वह हमेशा धनी व्यक्तियों और अपने मुखिया के बारे में मजाक...

तक धिना धिनः भगवान सिंह जी से मुलाकात और किस्से घुमक्कड़ी...

91 साल के भगवान सिंह जी,से लगभग 16 साल बाद मुलाकात हुई, वो भी उनके इठारना स्थित घर पर। मैं उन बुजुर्ग व्यक्ति को...

खोपड़ी की सलाह

अफ्रीका के किसी कबीले का शिकारी शिकार करते हुए एक विशाल पेड़ पर चढ़ गया। उसने देखा कि पेड़ की जड़ के पास एक...

स्त्री

स्त्री, सरल या जटिल, एक अबूझ पहेली, कितना कुछ, ख़ुद में समेटे, बहुत मुश्किल है, एक पुरुष के लिए, एक सरल सी स्त्री के, जटिल- मन को पढ़ पाना, क्योंकि, छिपा कर रखती...

लघु कथाः नया साल मुबारक हो

अनीता मैठाणी सड़क पर भीड़ अन्य दिनों की अपेक्षा अधिक थी, पर उसे इससे किंचित भी सरोकार ना था। उसे तो रोज की तरह...

ओ धूप

*अनीता मैठाणी ठहरे रहो ना... कुछ देर... आकर मेरे... दरवाजे पर... खिड़की पर... पहली फु़र्सत में... आऊँगी... हाथ सुखाने के बहाने... तुमसे... दो चार बातें कर जाऊँगी... मेरी खिड़की पर... ठिठके सूरज... सुनो ना... मेरी... छोटी सी इल्ति़जा... खोल दूंगी... बालों...

तक धिनाधिन में कहानियों संग पर्यावरण पर बातें

मानवभारती की प्रस्तुति  तक धिनाधिन  का सफर आगे बढ़ रहा है। एक बार फिर हम नियो विजन के बच्चों के साथ कहानियों को साझा कर रहे...

लक्खीबाग में कहानियों का ‘तक धिना धिन’

आखिरकार कहानियों का ‘तक धिना धिन’ शुरू हो ही गया। यह उन कहानियों का सिलसिला है, जो खुद के साथ दूसरों के लिए भी...

चिनार प्रेम

अनीता मैठाणी चिनार के दरख़्त से पत्तियों के झरने का मौसम हो जैसे, खुद चिनार सी हो जाती हूँ। कभी हरे पत्तों सी ताजगी लिए फिर कभी उदास हो...

समझदार बकरी

दो बकरियां थीं। वो एक पुल के पास रहती थीं। पुल बहुत संकरा था। पुल से एक समय में एक ही बकरी पार हो...

दशहरा मेला लाइवः रावण के पुतले की लकड़ी

मैं अपने बेटे के साथ दशहरा मेला देखने गया। बाइक कहां खड़ी करेंगे, इस सवाल का जवाब नहीं मिला तो दो किमी. पैदल ही...

पछताना पड़ा नकलची कौए को

बहुत पुरानी बात है। पहाड़ पर एक बाज रहता था। वहीं पहाड़ की तलहटी पर एक बरगद का पेड़ था, जिस पर एक कौआ...

लोहे का बॉक्स

किसी शहर में एक व्यक्ति रहता था। मृत्यु से पहले उसके पिता ने उसको लोहे का एक बॉक्स देते हुए कहा था कि इसे...

लोमड़ी का बहाना और भेड़िये की आफत

किसी जमाने की बात है एक व्यक्ति बैलगाड़ी लेकर जा रहा था, उसमें बहुत सारी मछलियां थीं। तभी एक लोमड़ी वहां से गुजर रही...

लालची डॉगी और पानी में परछाई

किसी शहर में रहने वाला एक डॉगी बहुत लालची था। एक दिन मीट की दुकान से मीट का टुकड़ा लेकर दौड़ लिया। वह स्वयं...

उल्टा पड़ गया केकड़े का आइडिया

किसी जंगल में एक झील थी, जिसमें रहने वाले हंसिनी और केकड़े में गहरी दोस्ती थी। दोनों काफी खुश थे और खूब बातें करते...

लालची कौए की कहानी

एक समय की बात है। किसी शहर में एक कबूतर ने किचन के पास अपना घोंसला बनाया हुआ था। इस किचन में खाना बनाने...

जब कौओं ने एक दूसरे को चुनौती दी

एक बार की बात है दो कौए साथ-साथ रहते थे। एक दिन उनमें बहस हो गई। एक कौआ कह रहा था कि मैं तुमसे...