कोविड-19ः बंद वातावरण में वायरस, बैक्टीरिया को कंट्रोल कर देगी यह टेक्नोलॉजी

0
228

साइंटेक एअरऑन नाम का निगेटिव ऑयन जनरेटर बंद वातावरण में वायरस, बैक्टीरिया और फंगस संक्रमण को नियंत्रित करने में मदद करता है

कोविड-19 पॉजिटिव और संदिग्ध केसों से जो स्थान संक्रमित हो गए हैं, उन्हें यह कीटाणुरहित कर सकता है और हवा को साफ कर सकता है

यह क्वॉरंटाइन सुविधाओं में काम करने वाले डॉक्टरों, नर्सों, स्टॉफ की रोग प्रतिरोधक शक्ति और वायरस से लड़ने की क्षमता को बढ़ा सकता है

डीएसटी ने उत्पाद निर्माण और बड़े पैमाने पर उत्पादित करने के लिए एक करोड़ रुपये जारी किए 

महाराष्ट्र के विभिन्न अस्पतालों में जल्द ही ऐसे 1,000 उत्पाद लगाए जाएंगे

नई दिल्ली। साइंटेक पार्क, पुणे की एक इन्क्यूबेटर कंपनी ने एक तकनीक विकसित की है, जो कोविड-19 के खिलाफ भारत की लड़ाई के लिए प्रभावी समाधान को प्रस्तुत करती है। यह तकनीक एक घंटे में एक कमरे के वायरस संक्रमण को न्यूनतम स्तर पर ले जा सकती है। विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी) के ‘निधि प्रयास’ कार्यक्रम के तहत इस प्रौद्योगिकी को विकसित किया गया है।

डीएसटी ने इस उत्पाद के निर्माण और बड़े पैमाने पर इसके उत्पादन के लिए एक करोड़ रुपये जारी किए हैं। महाराष्ट्र के विभिन्न अस्पतालों में ऐसे एक हजार उत्पादों को स्थापित किया जाएगा। पुणे स्थित जैक्लीन वेदर टेक्नोलॉजी इस उत्पाद का निर्माण कर रही है।

साइंटेक एअरऑन नामक निगेटिव ऑयन जनरेटर बंद वातावरण में वायरस, बैक्टीरिया और फंगस संक्रमण को नियंत्रित करने में मदद करता है। कोविड-19 पॉजिटिव और संदिग्ध मामलों के कारण जो स्थान संक्रमित हो गए हैं, उन्हें यह कीटाणुरहित कर सकता है और हवा को साफ कर सकता है। यह तकनीक क्वॉरंटाइन सुविधाओं में काम करने वाले डॉक्टरों, नर्सों, स्टॉफों की रोग प्रतिरोधक शक्ति और वायरस से लड़ने की क्षमता को बढ़ाकर उनको सहयोग कर सकता है।

घरों, अस्पतालों, स्कूलों, उद्योगों जैसे बंद वातावरण में रोग पैदा करने वाले वायरस और बैक्टीरिया को मारने की इसकी उपयोगिता की वैज्ञानिक जांच विश्वस्तर के प्रयोगशालाओं द्वारा की गई है।

ऑयन जेनरेटर मशीन का एक घंटे का परिचालन एक कमरे के 99.7 प्रतिशत वायरसों को खत्म कर सकता है। साइंटेक एअरऑन ऑयोनाइजर मशीन प्रति 8 सेकेंड में लगभग 100 मिलियन ऋण आवेशित ऑयन पैदा कर सकती है।

ऑयनोइजर द्वारा उत्पादित निगेटिव ऑयन हवा में तैरते फंफूद, एलर्जी पैदा करने वाले सूक्ष्म कणों, बैक्टीरिया, पराग-कण, धूल आदि के इर्द-गिर्द क्लस्टर बना लेते हैं और एक रासायनिक अभिक्रिया से इन्हें निष्क्रिय कर देते हैं। इस रासायनिक अभिक्रिया में अत्यधिक प्रतिक्रियाशील ओएच समूह जिसे हाइड्रॉक्सिल रेडिकल्स कहा जाता है और एचओ जिसे वायुमंडलीय डिटरजेंट के रूप में जाना जाता है, का निर्माण होता है।

ऑयन जेनरेटर से उत्पादित डिटरजेंस  वायरस, बैक्टीरिया और एलर्जी पैदा करने वाले तत्वों के बाहरी प्रोटीन को विघटित कर देते हैं, जिससे हवा से फैलने वाले रोगों को नियंत्रित करने में मदद मिलती है। यह शरीर की रोग प्रतिरोध क्षमता को बढ़ाती है। यह प्रतिरोध क्षमता ऑयन वातावरण से बाहर अगले 20-30 दिनों के लिए सहायक हो सकती है। यह कार्बन मोनोक्साइड (कार्बन डाइकॉक्साइड से 1000 गुणा अधिक हानिकारक), नाइट्रोजन डाइऑक्साइड और वाष्पशील कार्बनिक योगिकों जैसे गैस प्रदूषकों को भी विघटित कर सकती है।

ऑयन जेनरेटर का प्रभाव इन्फ्लूएंजा वायरस, कॉक्ससेकी वायरस, पोलियो वायरस, मानव कोरोना वायरस, एलर्जी पैदा करने वाले विभिन्न कणों, बैक्टीरिया और फंगस जैसे रोगाणुओं पर भी देखा गया है। सार्वजनिक परिवहन, ट्रेन स्टेशन, हवाई अड्डा, बंद वातावरण वाले स्थान जैसे घर, हवाई जहाज का केबिन, अस्पताल का वार्ड आदि स्थानों पर हवा में तैरते वायरसों के खिलाफ भी यह उपयोगी हो सकता है।

LEAVE A REPLY